Type Here to Get Search Results !

Izzat Shayari | Apni Izzat Shayari | हिन्दी इज्जत शायरी

Respect is very important for a person to live life, without respect a person does not remain human. If you want someone to respect you then first you have to respect that person, then that person also respects us. Respect is not inherited by anyone, it has to be earned by oneself. If you are looking for Izzat Shayari on the internet then you have come to the right place. Here you will get best shayari and images.

Izzat Shayari इज्जत शायरी

izzat shayari

धन गया; कुछ नहीं गया; स्वास्थ्य गया; कुछ गया; पर इज्जत गया तो सब कुछ चला गया।

Dhan Gaya; Kuchh Nahin Gaya; Svasthy Gaya; Kuchh Gaya; Par Izzat Gaya to Sab Kuchh Chala Gaya.

इज्जत बेश कीमती चीज है; किस्मत वालों को ही नसीब होता है!!

Izzat Besh Kimati Chij Hai; Kismat Valon Ko Hi Nasib Hota Hai...

izzat shayari

इज्जत इतनी महँगी चीज है साहब; इसकी उम्मीद घटिया लोगों से बिल्कुल भी ना करें!!

Izzat Itani Mahangi Chij Hai Sahab; Isaki Ummid Ghatiya Logon Se Bilkul Bhi Na Karen...

आजकल वह लोग हमें इज्जत करना सिखा रहे हैं; जिन्हें अपनी इज्जत के आगे; दूसरों की इज्जत की परवाह नहीं होती!!

Aajkal Vah Log Hamen Izzat Karana Sikha Rahe Hain; Jinhen Apani Izzat Ke age; Dusaron Ki Izzat Ki Paravah Nahin Hoti...

izzat shayari

जरूरी नहीं कि हर गिफ्ट कोई चीज ही हो; प्रेम परवाह और इज्जत भी बहुत अच्छे गिफ्ट है; किसी को देकर तो देखो!!

Jaruri Nahin Ki Har Gift Koi Chij Hi Ho; Prem Paravah Aur Izzat Bhi Bahut Achchhe Gift Hai; Kisi Ko Dekar to Dekho...

उस घर के किसी काम में कभी बरकत नहीं होती; जिस घर में मां बाप की इज्जत नहीं होती!!

Us Ghar Ke Kisi Kam Mein Kabhi Barakat Nahin Hoti; Jis Ghar Mein Maa Baap Ki Izzat Nahin Hoti...

izzat shayari

अगर इज्जत का डर हो तो मोहब्बत करना छोड़ दें; इश्क़ की गलियों में आओगे तो चर्चे जरूर होंगे!!

Agar Izzat Ka Dar Ho to Mohabbat Karana Chhod Den; Ishq Ki Galiyon Mein Aaoge to Charche Jarur Honge...

अच्छे लोगों की इज्जत कभी कम नहीं होती; सोने के सौ टुकड़े करो पर कीमत कम नहीं होती!!

Achchhe Logon Ki Izzat Kabhi Kam Nahin Hoti; Sone Ke Sau Tukade Karo Par Kimat Kam Nahin Hoti...

Apni Izzat Shayari अपनी इज्जत शायरी

izzat shayari

वो मिलने की मन्नत करते रहे; मैं इज्जत की दुहाई देती रही; बस इस कदर ही; मेरी मोहब्बत की कहानी खत्म हो गई!!

Vo Milane Ki Mannat Karate Rahe; Main Izzat Ki Duhai Deti Rahi; Bas Is Kadar Hi; Meri Mohabbat Ki Kahani Khatm Ho Gai...

जब भी बात इज़्ज़त या महोब्बत की हो तो; बिना सोचे इज्जत को ही चुनना!!

Jab Bhi Baat Izzat Ya Mahobbat Ki Ho to; Bina Soche Izzat Ko Hi Chunana...

izzat shayari

वक्त ऐतबार और इज्जत ये ऐसे परिंदे हैं; जो एक बार उड़ जाए तो वापस नहीं आते!!

Vakt Aitabar Aur Izzat Ye Aise Parinde Hain; Jo Ek Bar Ud Jae to Vapas Nahin Aate...

खुदा या नाखुदा अब जिसको चाहो बख्श दो इज्जत; हकीकत में तो कश्ती इत्तिफाकन बच गई अपनी!!

Khuda Ya Nakhuda Ab Jisako Chaho Bakhsh Do Izzat; Hakikat Mein to Kashti Ittiphakan Bach Gai Apani...

izzat shayari

जितनी इज़्ज़त आप दूसरो को दोगे; उससे कई ज्यादा इज़्ज़त लोग आपको भी देंगे!!

Jitani Izzat aap Dusaro Ko Doge; Usase Kai Jyada Izzat Log apako Bhi Denge...

जिस तरह के आप कर्म करेंगे; उसी तरह की आप इज्जत भी पाएंगे!!

Jis Tarah Ke aap Karm Karenge; Usi Tarah Ki Aap Izzat Bhi Paenge...

izzat shayari

आज हम ऐसे समाज का हिस्सा है दोस्तो; जहां बाप की इज्जत बेटी के हाथो में होती है; लेकिन बाप की जायदाद के कागज; बेटों के हाथो में होते हैं!!

Aaj Ham Aise Samaj Ka Hissa Hai Dosto; Jahan Baap Ki Izzat Beti Ke Hatho Mein Hoti Hai; Lekin Baap Ki Jayadad Ke Kagaj; Beton Ke Hatho Mein Hote Hain...

रोटी खाओ तो इज़्ज़त की खाओ; वरना मत खाओ!!

Roti Khao to Izzat Ki Khao; Varana Mat Khao...

Aurat Ki Izzat Shayari In Hindi औरत की इज्जत शायरी हिंदी में

izzat shayari

इज्जत महंगी चीज है; इसकी उम्मीद सस्ते लोगों से ना रखे!!

Izzat Mahangi Chij Hai; Isaki Ummid Saste Logon Se Na Rakhe...

कोई साथ हो या ना हो पर; अपनी इज़्ज़त अपने साथ होनी बहुत जरूरी है!!

Koi Sath Ho Ya Na Ho Par; Apani Izzat Apane Sath Honi Bahut Jaruri Hai...

izzat shayari

चाहे जिंदगी में कितने भी मोड़ आये; पर अपनी इज्जत गवाने के लिए कभी भी किसी के आगे हाथ ना फैलाये!!

Chahe Jindagi Mein Kitane Bhi Mod aaye; Par Apani Izzat Gavane Ke Lie Kabhi Bhi Kisi Ke Aage Hath Na Phailaye...

सोच रहे है सीख ले हम भी बेरुखी करना; अपनी कदर खो दी है हमने सबको इज्जत देते देते!!

Soch Rahe Hai Sikh Le Ham Bhi Berukhi Karana; Apani Kadar Kho Di Hai Hamane Sabako Izzat Dete Dete...

izzat shayari

माना पैसो से हर चीज खरीदी जा सकती है; पर पैसो से इज़्ज़त बिलकुल भी नहीं खरीदी जा सकती है!!

Mana Paiso Se Har Chij Kharidi Ja Sakati Hai; Par Paiso Se Izzat Bilakul Bhi Nahin Kharidi Ja Sakati Hai...

कुछ लोग ऐसे होते हैं की; उनको कितनी भी इज़्ज़त दो पर उन्हें वो इज़्ज़त हजम नहीं होती!!

Kuchh Log Aise Hote Hain Ki; Unako Kitani Bhi Izzat Do Par Unhen Vo Izzat Hajam Nahin Hoti...

izzat shayari

जिंदगी में आये हो तो हर चीज करना; पर भूलकर भी कभी अपनी इज़्ज़त मत गवाना!!

Jindagi Mein Aaye Ho to Har Chij Karana; Par Bhulakar Bhi Kabhi Apani Izzat Mat Gavana...

Ladki Ki Izzat Shayari लड़की की इज्जत शायरी

izzat shayari

जिसके मन में लालच जन्म ले लेता है; उसको फिर इज़्ज़त गवाने में ज्यादा समय नहीं लगता है!!

Jisake Man Mein Lalach Janm Le Leta Hai; Usako Phir Izzat Gavane Mein Jyada Samay Nahin Lagata Hai...

इज्जत भी मिलेगी दौलत भी मिलेगी; सेवा करोगे माँ बाप की तो जन्नत भी मिलेगी!!

Izzat Bhi Milegi Daulat Bhi Milegi; Seva Karoge Maa Baap Ki to Jannat Bhi Milegi...

izzat shayari

सच बोलकर मैंने इज्जत गवाई है; तो झूठ बोलने में क्या बुराई है!!

Sach Bolakar Mainne Izzat Gavai Hai; to Jhuth Bolane Mein Kya Burai Hai...

उसकी इज्जत कभी मत करो; जो आपकी इज्जत नहीं करता; उसे अहँकार नहीं कहते; उसे आत्म-सम्मान कहते हैं!!

Usaki Izzat Kabhi Mat Karo; Jo apaki Izzat Nahin Karata; Use Ahankar Nahin Kahate; Use Aatm-samman Kahate Hain...

Beti Ki Izzat Shayari बेटी की इज्जत शायरी

izzat shayari

इज्जत देखी तो सिर्फ खुदा के घर देखी; जहाँ रो भी लो तो जमाना तमाशा नही बनाता!!

Izzat Dekhi to Sirph Khuda Ke Ghar Dekhi; Jahan Ro Bhi Lo to Jamana Tamasha Nahi Banata...

जहां हमारी गलती हो वहा पर झुक जाना ही सही होता है; इससे हमारी इज़्ज़त सामने वाले की नजरो में कम नहीं बल्कि और बढ़ जाती है!!

Jahan Hamari Galati Ho Vaha Par Jhuk Jana Hi Sahi Hota Hai; Isase Hamari Izzat Samane Vale Ki Najaro Mein Kam Nahin Balki Aur Badh Jati Hai...

izzat shayari

एक इज्जतदार व्यक्ति से हर कोई मित्रता करना पसंद करता है!!

Ek Izzatdar Vyakti Se Har Koi Mitrata Karana Pasand Karata Hai...

रिश्ते भी वही अच्छे लगते हैं; जहां सम्मान होता है एक दूसरे के लिए; और जहां सम्मान नहीं होता; वहां रिश्ते नहीं होते।

Rishte Bhi Vahi Achchhe Lagate Hain; Jahan Samman Hota Hai Ek Dusare Ke Lie; Aur Jahan Samman Nahin Hota; Vahan Rishte Nahin Hote.

Pati Ki Izzat Shayari पति की इज्जत शायरी

izzat shayari

गर्व करना है तो अपनी पिता की इज्जत पर करो; धन पर नहीं; इज्जत कमाने मे उम्र बीत जाती है; और धन कभी भी कमा सकते हैं!!

Garv Karana Hai to Apani Pita Ki Izzat Par Karo; Dhan Par Nahin; Izzat Kamane Me Umr Beet Jati Hai; Aur Dhan Kabhi Bhi Kama Sakate Hain...

शिकायतों की भी इज्जत है; हर किसी से नहीं की जाती!!

Shikayaton Ki Bhi Izzat Hai; Har Kisi Se Nahin Ki Jati...

izzat shayari

इज्जत का खाओगे तो हमेशा खुश रहोगे; और माँगकर खाओगे तो हमेशा लोगो के अहसानों के नीचे दबकर रहोगे!!

Izzat Ka Khaoge to Hamesha Khush Rahoge; Aur Mangakar Khaoge to Hamesha Logo Ke Ahasanon Ke Niche Dabakar Rahoge...

मोहब्बत की पहली शर्त इज्जत है; जो इज्जत नही दे सकता; वो सच्चा प्यार भी नही दे सकता!!

Mohabbat Ki Pahali Shart Izzat Hai; Jo Izzat Nahi De Sakata; Vo Sachcha Pyar Bhi Nahi De Sakata...

Ladki Ki Izzat Shayari In Hindi लड़की की इज्जत शायरी हिंदी में

izzat shayari

जिस दिन तुम खुद के लिए जीना शुरू कर दोगे; उस दिन हर परिक्षा में पास हो जाओगे!!

Jis Din Tum Khud Ke Lie Jina Shuru Kar Doge; Us Din Har Pariksha Mein Pass Ho Jaoge...

खुद्दारियों में हद से गुजर जाना चाहिए; इज्ज़त से जी न पाये तो मर जाना चाहिए!!

Khuddariyon Mein Had Se Gujar Jana Chahie; Izzat Se Ji Na Paye to Mar Jana Chahie...

izzat shayari

लोगों से डरना छोड़ दो; इज्जत ऊपरवाला देता है लोग नही!!

Logon Se Darana Chhod Do; Izzat uparavala Deta Hai Log Nahi...

मोहबत इज्जत से शुरू होती है; मोहब्बत इज्जत पर ही खत्म होती है!!

Mohabbat Izzat Se Shuru Hoti Hai; Mohabbat Izzat Par Hi Khatm Hoti Hai...

Aurat Ki Izzat Shayari औरत की इज्जत शायरी

izzat shayari

जिसे इज़्ज़त बोलते हो; उसी की इज्जत नहीं करते!!

Jise Izzat Bolate Ho; Usi Ki Izzat Nahin Karate...

दौलत का क्या है साहब; वो तो आती-जाती रहेगी; अगर इज्जत एक बार चली गयी तो; वापस नहीं आएगी!!

Daulat Ka Kya Hai Sahab; Vo to Aati-jati Rahegi; Agar Izzat Ek Bar Chali Gayi to; Vapas Nahin Aaegi...

izzat shayari

आज भी लोग हमारी इतनी इज्जत करते हैं; हम जिसे मैसेज करते हैं वो सर झुकाकर पढ़ते हैं!!

Aaj Bhi Log Hamari Itani Izzat Karate Hain; Ham Jise Massage Karate Hain Vo Sar Jhukakar Padhate Hain...

आत्म सम्मान की रक्षा हमारा सबसे पहला धर्म है!!

Aatm Samman Ki Raksha Hamara Sabase Pahala Dharm Hai...

Bado Ki Izzat Shayari बड़ो की इज्जत शायरी

izzat shayari

उन्होने इज्जत बेच कर पैसे कमाए होंगे जनाब; तभी आजादी गवा कर बस गुलामी हाथ लगी है!!

Unhone Izzat Bech Kar Paise Kamae Honge Janab; Tabhi ajadi Gava Kar Bas Gulami Hath Lagi Hai...

इज़्ज़त; मोहब्बत; तारीफ़ और दुआ; मांगी नहीं जाती; कमाई जाती है!!

Izzat; Mohabbat; Tarif Aur Duaa; Mangi Nahin Jati; Kamai Jati Hai...

izzat shayari

मयखाने की इज्ज़त का सवाल था हुजूर; सामने से गुजरे तो; थोड़ा सा लड़खड़ा दिए!!

Mayakhane Ki Ijzat Ka Saval Tha Hujur; Samane Se Gujare to; Thoda Sa Ladakhada Die...

चाहे कितना भी पैसा कमा लो; अगर इज्जत नहीं कमा पाए तो; हमेशा गरीब ही कहलाओगे!!

Chahe Kitana Bhi Paisa Kama Lo; Agar Izzat Nahin Kama Pae to; Hamesha Gareeb Hi Kahalaoge...

Izzat Shayari In Hindi इज्जत शायरी हिंदी में

izzat shayari

जिस व्यक्ति में स्वाभिमान होता है; वह दूसरों को सम्मान देता है!!

Jis Vyakti Mein Svabhiman Hota Hai; Vah Dusaron Ko Samman Deta Hai...


Conclusion
 
We hope you liked the above Shayari and Images. Always remember one thing in life, to get respect, respect has to be earned. For similar shayari and images visit our website daily and search hindi shayari and images as per your wish and read and share on social media with your friends or relatives.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.